सांसों के सुल्तान

“40 साल से दे रहे हैं, जग को सांसें।
बाबा, श्री Sultan Singh Dhaka, आप एक ऐसे सख्स हैं जो अब तक न केवल 10 हजार से ज्यादा छायांदार पेड़ों को छायांदार बनने तक पाल चुके हैं बल्कि हजारों ऐसे पीपल भी जीवित कर चुके हैं जो किसी पुरानी हवेली या जगह पर उग आए और जमीन के मालिक उनको हटाना चाहते थे।
एक बडे पौधे को जीवन देना नये पौधे लगाने से बहुत ज्यादा वक्त और मेहनत मांगता है।
इन पेड़ों को लहलहाते देख अब उतना ही सुकून मिलता है, जितना दुख हमें तब होता था जब बाबा ने ऐसी ही हजारों टन सांसों को पैदा करने के लिए हमारे बचपन में हमें वक्त नही दे पाते थे और मां बाबा बाबा की चिंता में जागती रहती थीं।
ऐसे ही हर साल हम देखते हैं बाबा को सैंकड़ों पेड लगाते, उनकी पौध तैयार करते, उनको सर्दी -गर्मी -बीमारी और पशुओं से बचाते।
और ये सब करने के लिए जो भी खर्चा हुआ खुद की पगार से और कम पडा तो मां की पगार से भी। इस यात्रा में हजारों पौधे विरोधियों ने उखाड दिए फिर भी आप लगे रहे, अपनी धुन में और आपके साथ कोई दिखा तो सिर्फ एक शख्स, मां, श्रीमति मोहिनी ढाका, बस और नेपथ्य से हमेशा आपको संबल देती रहीं और हमें भी अपने पिता के गौरवपूर्ण कार्यों से अवगत करातीं रहीं।
मगर आपके प्रयासों से लाखों टन प्राणवायु पैदा हुई ये देखकर बडी सुखद अनुभूति होती है। मां – बाबा आपका कोटि कोटि शुक्रिया हमें पैदा करने, पालने, संघर्ष के मायने समझाने और इंसानियत का पाठ पढाने के लिए।
भले आपने कभी खुद के काम का प्रचार न किया हो मगर आपके पेड आने वाले सहस्रों वर्षों तक इसकी गवाही देंगे।
पिछले 40 साल में आपकी जहां जहां पोस्टिंग रही वहां वहां के विद्यालय परिसर, श्मशान, कब्रिस्तान, मंदिर मस्जिद और आम रास्ते आपको आज भी याद करते होंगे जब लहलहाते पेड़ों की छायां में सुकून पाते होंगे।


🙏🙏
छायांचित्र में पिछले सप्ताह लगाए गये कुछ पीपल के पेड़ों को लगाने की जद्दोजहद है और खुशखबर यह कि इन पेड़ों ने भी जड़ें पकडलीं हैं, इस तपते वैशाख में भी आपने पेड़ों को जीवन दे दिया, धन्य हैं बाबा।”
🙏🙏

originally taken from https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=2662934910659027&id=100008276311852

#सांसों_के_सुल्तान

1 Comment

Leave a Comment

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s